Tuesday, July 18, 2017

बासमती चावल हो तुम

बस ये समझ लो कुछ देर को,
कि बासमती चावल हो तुम,
pressure cooker में तो जाना पड़ेगा,
अगर तैयार होना है,
(कच्चे कितने दिन गुज़ारोगे, और किसके घर पे,
पड़े पड़े एक दिन घुन लग ही जाएगा )
पर जितना ज़्यादा pressure मिलेगा,
उतना जल्दी पकोगे,
हाँ, .. थोड़ा घुटन होगी,
थोड़ा जलन होगी,
और कुछ नहीं दिखेगा कुछ देर को,
पानी ऊपर उठेगा, तो डर भी लगेगा,
काँपेगा, सर तक डूबा हुआ एक एक अंग,
धुंधला सा हो जाएगा सब कुछ, कुछ पलों को,
और आंच अगर धीमी हुई, तो थोड़ा time भी लग सकता है,
पर जब सीटी आएगी और ढक्कन खुलेगा,
तब तक तुम्हारे अलावा, जो भी हैं इर्द गिर्द,
और जितना भी है इर्द गिर्द,
सब भाप बन के उड़ जाएगा।
क्यूंकि किसी के बाप में नहीं हिम्मत, जो तुममे है,
बस कुछ देर को,
pressure cooker में तो जाना पड़ेगा,
फिर हर तरफ़ खुशबू भी होगी,
और स्वाद भी आएगा,
...ज़िन्दगी का।


-प्रणव मिश्र 






No comments:

Post a Comment